eye, creative, galaxy-4997724.jpg

आँखे

भटके हुओ को राह पे
लाती है ये आँखे
अनजान मुसाफिरों को राह
दिखाती है ये आँखे
मुश्किलों में भी साथ
निभाती है ये आँखे
गम आये तो रोकर
बताती है ये आँखे
ख़ुशी में भी आंसू
छलकाती है ये आँखे
महबूब के आगे प्यार
जताती है ये आँखे
अफसाने वफ़ा के भी
सुनाती है ये आँखे
खूबसूरती का पैमाना भी
समझी जाती है ये आँखे
आशिकों को जाम भी
पिलाती है ये आँखे
शायरों के शेयरों और
कवियों की कविताओं में
बस जाती है ये आँखे
कई बार सच को झूठ में
कई बार झूठ को सच में
दिखलाती है ये आँखे
कभी कभी आँख भी
मार जाती है ये आँखे
और आदमी को पिटवाकर
बंदर बनवाती है ये आँखे
नजरो से नजर भी
मिलाती है ये आँखे
और कइयो को नजर भी
लगा जाती है ये आँखे
खुद को नजर से बचवाने को
काजल भी लगवाती
है ये आँखे
और इस तरह
दुनियाँ को दीवाना
बनाती है ये आँखे ..

Leave a Comment

Your email address will not be published.