आओ औरो को भी हंसाए

हर चीज का दिन बनाया

हँसी का भी नम्बर आया

मई के पहले इतवार को

विश्व हास्य दिवस ठहराया

 

दिन मुकर्रर करने का अर्थ

सिर्फ लोगो को प्रेरणा देना

कुछ ने इसी दिन हँसना है

ऐसा मतलब भी लगाया

 

हँसी गायब चेहरों से आज

बोझिल जिंदगी हो गयी है

नीरसता के बादल छाए है

मुस्कान कहीं खो गयी है

 

हँसी एक टॉनिक की भांति

शरीर मे उत्साह भर देती है

शिथिल हुए प्राणी मैं भी ये

प्राण का संचार कर देती है

 

हँसी का कोई मौका ना छोड़े

दिनचर्या का हिस्सा बनाये

ख़ुद भी हंसे हम जी भरकर

आओ औरो को भी हंसाए

Leave a Comment

Your email address will not be published.