आत्मनिर्भरता के पांच स्तंभ

प्रधानमंत्री ने पाँच स्तंभ आत्मनिर्भरता के दिए
आओ समझे विस्तार से ताकि इनका अर्थ मिले

पहला स्तंभ इकॉनमी जो बहुत तेजी से बढ़े
इंक्रीमेंटल चेंज नही हमे क्वांटम जम्प मिले

दूसरा स्तंभ इंफ्रास्ट्रक्चर जो अत्याधुनिक हो
जिससे जाने जाय हम भारत को सम्मान मिले

तीसरा स्तंभ सिस्टम जो टेक्नोलॉजी ड्रिवन हो
पुरानी रीति की जगह एक नया आधार मिले

चौथा स्तंभ वाइब्रेंट डेमोग्राफी जो देती है ऊर्जा
सब से बड़े लोकतंत्र में इसे एक विस्तार मिले

पांचवा स्तंभ है डिमांड सप्लाई चेन मजबूत हो
वैश्विक अर्थव्यवस्था में भारत को पहचान मिले

-डॉ मुकेश अग्रवाल

Leave a Comment

Your email address will not be published.