किस काम का ये गुस्सा

किस काम का ये गुस्सा

जो दिमागी संतुलन हटा दे

किस काम का ये गुस्सा

जो शरीर को बीमार बना दे

 

किस काम का ये गुस्सा

जो सम्बन्धो में आग लगा दे

किस काम का ये गुस्सा

जो दोस्त को दुश्मन बना दे

 

किस काम का ये गुस्सा

जो आदमी का धीरज मिटा दे

किस काम का ये गुस्सा

जो इंसानियत को ही भुला दे

 

किस काम का ये गुस्सा

जो दो देशों में युद्ध करवा दे

किस काम का ये गुस्सा

जो बनता काम बिगड़वा दे

 

किस काम का ये गुस्सा

जो शैतान का खिताब दिला दे

किस काम का ये गुस्सा

जो दिन रात का चैन उड़ा दे

 

किस काम का ये गुस्सा

जो छवि को मिट्टी में मिला दे

किस काम का ये गुस्सा

जो अच्छे को भी बुरा बना दे

 

किस काम का ये गुस्सा

जो शादी को शमशान बना दे

किस काम का ये गुस्सा

जो हंसते हुए को भी रुला दे

 

किस काम का ये गुस्सा

जो मौत का फरमान सुना दे

किस काम का ये गुस्सा

जो ख़ुदकुशी तक पहुँचा दे

Leave a Comment

Your email address will not be published.