घुमक्कड़ी_हमारे_खून_मे

होमो सेपियन्स नाम बेहद जिज्ञासु है हम

घुमक्कड़ी हमारे खून में चलते जाते हम

अनजान राहों पर निकलना हमारा शौक़

नई नई दुनिया खोजे बन के बंजारे हम

अज्ञात की टोह में प्राण दांव पर लगा दे

हजारों वर्ष पहले समुंद को चीर जाते हम

शीतयुग में अफ्रीका से पूरी दुनिया मे फैले

खानाबदोश चले जाए बस्तियां बसाते हम

हमारे जो मन मे आया वो कर के दिखाया

चाँद पर भी क़दमो के निशान बनाते हम

चक्कर हमारे पैर में है ये हम को है पता

निकल पड़े ब्रह्मांड के लंबे सफर पर हम

जिद्दी भी बहुत है कर के ही अब दम लेंगे

लाखो और ग्रहों पर दुनिया बसाएंगे हम

होमो सेपियन्स नाम है बेहद जिज्ञासु हम

घुमक्कड़ी हमारे खून में चलते जाते हम

Leave a Comment

Your email address will not be published.