वही बचेगा जो फिट होगा

लगता है अब फिर से इतिहास दोहराया जाएगा
वही बचेगा जो फिट होगा बाकी काल ले जाएगा

पहले भी बहुत प्रजातियां विलुप्त हुई दुनिया से
अबके बार शायद मानव तेरा नम्बर लग जाएगा

गर बचाना चाहता खुदको तो तुझे बदलना होगा
वरना डार्विन के सिद्धांत के तू हत्थे चढ़ जाएगा

आजा शरण प्रकृति के तू उस पर ना धौंस जमा
ज्यादा श्याना बनेगा अगर औंधे मुँह गिर जाएगा

आयुर्वेद को अपना कर तू इम्युनिटी अपनी बढ़ा
योग के अनुसार चला तो ही जीवन बच पाएगा

कोरोना सिखाने आया कि तू बहुत छोटा अभी
अहं में जीने वाले मानव तू अब धोखा खाएगा

लगता है अब फिर से इतिहास दोहराया जाएगा
वही बचेगा जो फिट होगा बाकी काल ले जाएगा

-डॉ मुकेश अग्रवाल

Leave a Comment

Your email address will not be published.