वाणी में माधुर्य लाए

आओ दिल छू लेने में

आज पारंगत हो जाए

हृदय के तार खनके

आज ऐसे गीत गाए

 

मधुर मीठी बोली से ही

कोयल मन हर लेती है

सबको अपना बनाने को

ये बोली ही काम आए

 

सबसे पहले बातों से ही

कोई करीब आता है

शहद जैसी मिठास ही

हर किसी को पसंद आए

 

बेशक आप अच्छे इंसान

आवाज कर्कश कौए सी

एक मुलाकात के बाद

कोई ना फिर पास आए

 

सब को अपना बनाना है

और दिलो पे छा जाना है

केवल एक ही है रास्ता

वाणी में माधुर्य लाए

Leave a Comment

Your email address will not be published.