Month: December 2021

people, woman, travel-2591874.jpg

अधूरापन

हर व्यक्ति अधूरा है पर कहता खुद को पूरा है यही तो विडंबना है की मानता नहीं कुछ भी जानता नहीं यथार्थ और झूठ में फर्क करना वफ़ा और बेवफाई को अलग करना किस के आँख है,कौन अँधा है कौन का अच्छा,कौन सा बुरा धंधा है कितने लोग जानते है पर सभी खुद को ज्ञानी …

अधूरापन Read More »

jasraj

पंडित जसराज

श्रद्धांजलि उस आत्मा को उम्रभर जो जिया संगीत में जन्म और जीवन जिसका बीता बस इसी की प्रीत में   अपने तबले व आवाज से थी सारे जग में धूम मचाई रागों के जसराज बादशाह जैसे सरस्वती कंठ में आई   पदमश्री भूषण व विभूषण जैसे आभूषण इन्होंने पाए कलाक्षेत्र के हरेक सम्मान खुद इनकी …

पंडित जसराज Read More »

चलो हार को हराए

नकारात्मकता भगा कर दुश्मन को भी गले लगाए चलो आज हार को हराए   बहुत हो चुका तेरा व मेरा आओ मिलन के गीत गाए चलो आज हार को हराए   मेरे बस की बात नही ये कहने से अब हम घबराए चलो आज हार को हराए   जो ठान लिया दिल मे तूने करने …

चलो हार को हराए Read More »

दूरियां बढ़ने से

क्या होता है क्यों आती है रिश्तों में दरार प्रियतम को देखने को दिल नही चाहता   कसमे खाई जीवन भर साथ निभाने की फिर क्यों प्रेमी एक पल भी नही सुहाता   तब इस क़दर ज़हर उगलती है ये जिव्हा कहती थी कभी तेरे बिन रहा नही जाता   बात कहने को आवाज ऊंची …

दूरियां बढ़ने से Read More »

beach, yoga, sunset-1835213.jpg

तितिक्षा

कोई करे बड़ाई या कोई दे गाली ना आता गुस्सा ना चेहरे पे लाली   ईर्ष्या ना द्वेष इन्हें ना ही कोई मोह ना चाहिये सम्मान ना कोई विद्रोह   द्वन्दों का सहना हो जाता आसान कोई दुःख फिरसे ना करे परेशान   ना कोई दुर्भावना ना ही सदभाव तितिक्षा सधने से जगता समभाव   …

तितिक्षा Read More »

धोनी – कुछ विशेष है तू

धोनी – कुछ विशेष है तू ज्यूँ पर्वतों में शैलेश है तू तेरी एक खास पहचान तभी तो अखिलेश है तू   भारत की करी अगुवाई विश्व में पहचान बनाई प्रधानमंत्री भी करे बड़ाई वाकई एक नीलेश है तू   कैप्टेन कूल से है मशहूर खेले तो भर देता सुरूर चेहरे पर दिखता एक नूर …

धोनी – कुछ विशेष है तू Read More »

नेता जी

———- 23 जनवरी 1897 को भारत मे एक महामानव का जन्म हुआ मातृभूमि को आज़ाद करवाने था ये सपूत अवतरित हुआ नवक्रान्ति का सूत्रपात करने जन जन में शक्ति पैदा करने सोई चेतना को जागृत करने ये क्रान्ति दूत था प्रकट हुआ सिविल सेवा में अव्वल आकर प्रतिभा का लोहा मनवा कर छोड़ अंग्रेज़ो की …

नेता जी Read More »

दोस्तो का ग्रुप

दोस्तो का ग्रुप

एक जीवंतता आ जाती जब दोस्तो से करते बात सब गमों को भूल जाते जब होती मीठी मुलाकात   ना कोई इच्छा लाभ की ना ही कोई उनसे व्यापार बस एक मिलने की तड़प जैसे छूटा कोई उस पार   आज समय है ऐसा आया जिसने मिलना बंद कराया पागल होने से लोगो को सोशल …

दोस्तो का ग्रुप Read More »

हीरा जन्म गंवाया

हीरा जन्म गंवाया

तेरा मेरा झूठ है सब झूठी है मोह माया राम नाम एक सत झूठी माटी की काया   बुरा जो ढूंढन चला कोई हाथ ना आया जब अपने अंदर देखा उसे वही पे पाया   जानी सारी दुनिया अपना पता ना पाया जंगल जंगल घूम लौट के घर को आया   पद पैसे प्रतिष्ठा के …

हीरा जन्म गंवाया Read More »

राहत इंदौरी को श्रद्धांजलि

आज हमें छोड़ कर कलाकार चला गया “राहत इंदौरी” जैसा गीतकार चला गया   बहुत जिस के शेयरों ने मचाई धूम थी जँहा से एक उम्दा ग़ज़लकार चला गया   याद आएगी बड़ी ऐसी थी जिसकी अदा रोता छोड़ कर हमे वो फनकार चला गया   इंदौर से निकल कर दिखाया जग में जलवा इंदौरी …

राहत इंदौरी को श्रद्धांजलि Read More »