रक्षाबंधन

रक्षाबंधन भाई बहन के अमरप्रेम का, पर्व आज ये आया हर बहन चहक रही है हर भाई है मुसकाया । रक्षा सूत्र के पावन बंधन में, आज बँधे है दोनो भाई की आरती उतार माथे पर तिलक लगाया । दिया उपहार बहन को सम्मान और सुरक्षा का भाई होने के फ़र्ज़ को भाई ने आज निभाया । संग में खेले, संग में लड़े संग में पढ़ें, संग में बढ़े भाई बहन के रिश्ते को रक्षाबंधन ने महकाया ।।।

Visit fbetting.co.uk Betfair Review