• Home
  • My Poems
  • परिवार मिलन समाहरोह

परिवार मिलन समाहरोह

परिवार मिलन समाहरोह है ये,

ये नई उमंग जगाता है,
रिश्तों के नए पंख लगाकर,
श्रितिज पर ले जाता है,

प्रेम,उल्लास और सद्दभावना,
इन तीनो का मेल यहाँ,
बच्चे और बड़े सब मिलकर,
खेलते है खेल यहाँ,

जीवन के सुंदर सफ़र में,
ये चार चाँद लगाता है,
परिवार मिलन समाहरोह है ये,
ये नई उमंग जगाता है........!!!

Visit fbetting.co.uk Betfair Review