कहाँ तक ये ठीक है

 

बचपन में कर देना शादी
कहाँ तक ये ठीक है
छोटी उम्र में ही बर्बादी
कहाँ तक ये ठीक है

कलि अभी तो कच्ची है
इसे फूल बन जाने दो
समय की सीमा आने तक
इस को तुम मुस्काने दो
बढ़ाना अभी से और आबादी
कहाँ तक ये ठीक है

बोझ उठा सकती नहीं
यह अभी संतान का
खुद ही अभी बच्ची है
रूप है भगवान का
बनाना इसे अभी से दादी
कहाँ तक ये ठीक है

उद्देश्य होना चाहिए हमारा
माँ बच्चा दोनों रहे स्वस्थ
२१ का लड़का ,१८ की लड़की
ही होते है अभ्यस्त
कच्चे ताने पर बोझ लटकाना
कहाँ तक ये ठीक है

बचपन में कर देना शादी
कहाँ तक ये ठीक है
छोटी उम्र में ही बर्बादी
कहाँ तक ये ठीक है

Visit fbetting.co.uk Betfair Review